Sep 9, 2017

बुद्धा..चाइनिज मन्दिर-सारनाथ


मन्दिर में प्रवेश करते ही नन्दलाल मिले। 15 वर्ष की उम्र से ही यहाँ रहकर मन्दिर की चौकीदारी कर रहे हैं। रहने के लिए एक कमरा और 1000 महिना मिलता है। 1000 में इनका जीवन कैसे चलता है यह समझना थोड़ा कठिन है।







Jul 1, 2017

मजदूर








ये तीन तस्वीरें #ट्रेन की खिड़की से लिए गए हैं. अपनी ट्रेन शिवपुर रेलवे स्टेशन, वाराणसी के प्लेटफोर्म पर रुकी सामने एक मालगाड़ी से खाद के बोरे उतारे जा रहे थे.  

Oct 9, 2016

काश! हिरण के हाथ होते!!!







ऊपर के तीन चित्रों पर एक कहानी लिखिए. शुरुआत मैं करता हूँ.....

काले कौए ने कहीं से मोर का एक पंख पाया. पंख झर चुका है खाली डंडी बची है. बार-बार उठाकर हिरण को देना चाहता है. हिरण के हाथ नहीं हैं . पंख जमीन पर गिर जाता है. कौआ फिर पंख उठाने का प्रयास करता. काश! हिरण के हाथ होते!!!