Oct 20, 2013

वेधशाला

मुगल राजपूत शैली में निर्मित,पत्थर की  झरोखेदार खिड़कियों व सुंदर रंगों से चित्रित छत युक्त मान महल अपनी वेधशाला के लिए प्रसिद्ध है। यह राजेंद्र प्रसाद घाट के ऊपर स्थित है। मान महल आमेर(राजस्थान) के सम्राट मान सिंह द्वारा े1600 वीं इस्वी में बलुए पत्थर से बनवाया गया। यहाँ का गणित मेरे पल्ले नहीं पड़ता। घूमते समय आनंद आता है और इन यंत्रों को देखकर उत्सुकता होती है। यहाँ से गंगा जी का नज़ारा खूबसूरत दिखलाई पड़ता है। 




नीचे हॉल में यह सुदंर पेटिंग लगी है जिससे पूरी वेधशाला का विहंगम दृश्य देखा जा सकता है।



4 comments:

  1. कैसी-कैसी अनूठी चीजेँ हैं,जिनका कोई प्रचार नहीं होता.

    ReplyDelete
  2. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन बच्चा किस पे गया है - ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  3. बहुत अच्छे चित्र जो हमें गर्व करना सिखाते है अपनी पुरानी विरासत पर ।

    ReplyDelete